Sat. Nov 28th, 2020

पीलीभीत जिलाधिकारी की अध्यक्षता में इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एवं कंट्रोल सेंटर की समीक्षा बैठक सम्पन्न।

पीलीभीत जिलाधिकारी की अध्यक्षता में इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एवं कंट्रोल सेंटर की समीक्षा बैठक सम्पन्न।

 

पीलीभीत जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में इंटीग्रेटेड कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर गोमती सभागर विकास भवन में नोडल व पर्यवेक्षण अधिकारियों के साथ कल देर रात समीक्षा बैठक सम्पन्न की गई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी द्वारा जिलाधिकारी द्वारा होम आईसोलेशन माॅनीटिरिंग टीम, टेस्टिंग कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग माॅनीटिरिंग टीम, एल वन व एल टू फैसिलिटी सहित अन्य महत्वपूर्ण बिन्दुओ पर गहनता से समीक्षा की गई। जिलाधिकारी द्वारा बैठक में सब लायंस टीम के कार्यों की समीक्षा के दौरान पर्यवेक्षण अधिकारी जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि टीम द्वारा सर्वेक्षण में जुखाम बुखार जैसे लक्षण पाए जाने वाले व्यक्तियों का अगले दिन टेस्टिंग कराना सुनिश्चित किया जाए और प्रतिदिन अवगत कराया जाए कि सर्विलाइंस टीमों द्वारा डोर टू डोर कितना सर्वेक्षण किया गया और इस दौरान लक्षण युक्त कितने व्यक्तियों को टेस्टिंग कराई गई इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय और जांच के उपरांत पॉजीटिव व्यक्तियों को संबंधित एमओआईसी व एंबुलेंस के नोडल अधिकारी के माध्यम से तत्काल आवश्यक फैसिलिटी में भर्ती कराना सुनिश्चित किया जाए। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा एल वन व एल टू फैसिलिटी में प्रतिदिन उपलब्ध कराई जा रही है। सुविधाओं के निरीक्षण हेतु नामित नोडल अधिकारी नगर मजिस्ट्रेट व मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निरीक्षण कार्यो की समीक्षा की गई इस दौरान नगर मजिस्ट्रेट द्वारा अवगत कराया गया कि सभी व्यवस्थाएं ठीक-ठाक पाई गई। निरीक्षण के दौरान भोजन की गुणवत्ता एवं मात्र की जांच की गई और संबंधित को निर्देशित किया गया कि सभी मरीजों को पर्याप्त मात्रा में समय से भोजन उपलब्ध कराया जाए। जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान एंबुलेंस संचालन के नोडल अधिकारी उप जिलाधिकारी सदर को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रतिदिन कोरोना पाॅजीटिव पाए गए व्यक्तियों की सूची प्राप्त होने पर तत्काल संबंधित एमओआईसी से समन्वय स्थापित करते हुए 24 घंटे में आवश्यक फैसिलिटी में भर्ती कराना सुनिश्चित किया जाय और इसके साथ ही साथ सम्बंधित व्यक्तियों की कांटेक्ट ट्रेसिंग का कार्य भी संबंधित आरआर टीम द्वारा साथ में संपन्न करा दिया जाए और कांटेक्ट ट्रेसिंग व्यक्तियों का अगले दिन तत्काल सैंपलिंग का कार्य भी पूर्ण किया जाय और इसकी सूचना प्रतिदिन उपलब्ध कराई जाय। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी।
बैठक में होम आईसोलेशन की समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि समस्त एमओआईसी के द्वारा यह सुनिश्चित किया जाए। होम आइसोलेट व्यक्ति के पास अनिवार्य रूप से उपलब्ध होनी चाहिए और साथ ही साथ उसके मोबाइल में होम आइसोलेट एप अनिवार्य रूप से अपलोड किया जाना सुनिश्चित किया जाए तथा कंट्रोल रूम से प्रतिदिन वार्ता के दौरान यदि किसी व्यक्ति का फोन नंबर बंद आता है तो संबंधित एम ओ सी टीम भिजवा कर जांच करना सुनिश्चित करेंगे।जिलाधिकारी द्वारा डाटा फीडिंग संबंधी कार्यों की समीक्षा के दौरान डीपीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त एमओआईसी से संबंध स्थापित करते हुए प्रतिदिन का समय सूचनाओं को पोर्टल पर अपलोड करना अनिवार्य रूप से सुनिश्चित किया जाए
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, अपर जिलाधिकारी (वि./रा.) अतुल सिंह, जिला विकास अधिकारी योगेन्द्र पाठक, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0सी0एम0 चतुर्वेदी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अश्वनी कुमार, परियोजना निदेशक श्री अनिल कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी के0पी0सिंह, सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे। रि. योगेश गुप्ता आज का अपराध. व्यूरोचीफ जनपद पीलीभीत 9760524680

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *