Fri. Oct 23rd, 2020

इस आपदा में खतरों से जूझ रहे हैं पत्रकार वायरस संक्रमित होने का खतरा जिसके लिए केंद्र सरकार वह राज्य सरकार नहीं दे रही है सुविधाएं

इस आपदा में खतरों से जूझ रहे हैं पत्रकार वायरस संक्रमित होने का खतरा जिसके लिए केंद्र सरकार वह राज्य सरकार नहीं दे रही है सुविधाएं

 

जिला पीलीभीत में सभी पत्रकारों को मानदेय नहीं मिलता है जिससे मीडिया बंधुओं को इस आपदा की घड़ी में कवरेज करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव पुलिस अधीक्षक अभिषेक दिक्षित द्वारा मीडिया कर्मियों से सहयोग की अपेक्षा की जाती है और पीलीभीत में बीजेपी सदर विधायक संजय सिंह गंगवार, बरखेड़ा विधानसभा के विधायक किशन लाल राजपूत, बीसलपुर विधानसभा बीजेपी विधायक रामशरण वर्मा , पूरनपुर विधानसभा बीजेपी विधायक बाबूराम पासवान , द्वारा कोरोना संक्रमण के लिए दत्त 1000000 रुपए सहायता राशि जिला अधिकारी को दी गई है विधायक निधि से लेकिन मीडिया कर्मियों की अपेक्षा का सरकार को जरा सा भी ध्यान नहीं*
*कृपया ध्यान दें* – इस महामारी से बचाव हेतु पूरा विश्व सहयोग में लगा हुआ है। तो वही दूसरी ओर मीडिया कर्मियों का भी इस महायज्ञ में पूरा योगदान होना प्रतीत हो रहा है। क्या ऐसी दशा में मीडिया कर्मियों को सरकार द्वारा मीडिया कर्मियों को पैकेज देना चाहिए ? अथवा नहीं ? अगर हाँ तो केंद्र सरकार राज्य के समस्त जनपदों के जिलाधिकारी/उपजिलाधिकारी को एक आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए एडवाइजरी जारी कर ब्लाक स्तर से लेकर जनपद स्तर के क्षेत्र पूरनपुर बीसलपुर बरखेड़ा पीलीभीत के सभी ब्लॉक बा शाहजहानपुर जिला लखीमपुर हरदोई सीतापुर  बरेली बदायूं  उत्तर प्रदेश केे सभी  मान्यता प्राप्त   कर पत्रकार सूची बनाकर उन्हें  तत्काल प्रभाव से पैकेज आदि की समुचित व्यवस्था उपलब्ध कराई जाये। क्योकि सरकार इस महामारी के बचाव हेतु करोड़ो खर्च कर रही हैं। तो उसका भागीदार एक मीडिया कर्मी भी है। जैसे मीडिया कर्मियों की गाड़ी का पेट्रोल + मेंटीनेंस,जीविका हेतु आर्थिक सहयोग आदि अगर आप मेरी बात से सहमत है तो अपने विवेक के मुताबिक एक टिप्पणी अवश्य करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *