Tue. Oct 27th, 2020

ग्रामीण क्षेत्रों के होनहार इंजीनियर ने बढ़ाई अपने माता पिता की शान , आये , फ्रांस से बुलावे

ग्रामीण क्षेत्र में रहते हुए भी अपने अथक प्रयासों से 2014 में पासआउट इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर धर्मेंद्र कुमार पुत्र विश्राम सागर निवासी गोपालपुर ने दिव्यांगता के बावजूद जो कर दिखाया उसके लिए उन्हें उन्हीं के निवास पर जाकर दो शाला उड़ाकर एवं माल्यार्पण कर शील्ड प्रदान करके सम्मानित किया।


धर्मेंद्र कुमार ने लगन पूर्वक कुछ ऐसी तकनीक इजाद कर दी कि जिस की धमक फ्रांस तक पहुंच गई इंसोल टी नामक बिजली चलित यंत्र बनाने का दावा किया साथ ही कहा गया कि बिना दवा के मधुमेह को नियंत्रित किया जा सकता है इन दावों को लेकर अनेकों सवाल उठे पर अब उनकी इस तकनीक को प्रदर्शित करने के लिए फ्रांस से बुलावा आ चुका है


उन्हें 30, 31 जुलाई को अपनी डिवाइस को प्रदर्शित करना है


हमने उनके द्वारा बनाए गए डिवाइस और अन्य प्रयोग (वस्तुओं) को भी देखा, उन्होंने बताया कि वह निरंतर प्रयासरत हैं और कुछ और अच्छा करने के बारे में भी लगे हुए हैं
उनके पिता एवं परिजन इन आमंत्रण एवं उपलब्धि के लिए के लिए बहुत खुश हैं।
उन्हें सपरिवार शुभकामनाएं दीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *