Sat. Oct 31st, 2020

दी किसान सहकारी चीनी मिल ,के घटतौली का खेल को लेकर जनता में आक्रोश ,अधिकारी मौन

एंकर – उत्तर प्रदेश सरकार जहां किसानों की आय बढ़ाने की बात कर रही है तो वहीं जनपद पीलीभीत में किसानों के साथ घटतौली का खेल खेला जा रहा है। और सबसे बड़ी बात तो यह है कि यह सारा मामला चीनी मिल प्रशासन की मिली भगत और संज्ञान में खेल हो रहा है।

 

वीओ-/1 दि किसान सहकारी चीनी मिल पूरनपुर का नाम आते ही माजरा सब समझ जाते हैं। यह बात वह किसान कह रहे है जिन्होने अपने खून पसीने से सींचकर गन्ना उगाया हैै

l और सरकारी चीनी मिल में हो रही घटतौली यह एक गंभीर बिषय है लेकिन इनकी सुनेगा कौन। जी हां गन्ना पेराई सत्र आधे से ज्यादा बीत गया है l

 

और यहां सैकड़ो किसान रोज गन्ना ट्रालियां लेकर आते है अगर एक ट्राली पर चार पांच कुंटल गन्ने की घटतौली तो हो तो एक दिन में हजारों कुंटल और लगभग पांच माह गन्ना पेरने बाली चीनी मिल जिसमें लाखों कुंटल गन्ना चीनी मिल कर्मचारी अधिकारियों किसानों का गन्ना घटतौली में हड़प लेते हैं।

 

जिससे चीनी मिल को अच्छा मुनाफा मुफ्त में होता है। लेकिन मुनाफा भी भृष्ठ अधिकारियों की भेटचढ़कर हर बर्ष करोड़ों का घाटा दर्ज कराते है।

 

बर्तमान में पूरनपुर सहकारी चीनी मिल करोडों के घाटे में दर्ज है।

 

वहीं घटतौली के चलते चीनी मिल सीसीओ अशोक कुमार भट्ट से मीडिया ने संपर्क साधना चाहा तो चीनी मिल सीसीओ फरार हो गये।उसके बाद मीडिया के लोगों ने चीनी मिल जीएम से बात करनी चाही तो चीनी मिल जीएम ने मीडिया कर्मियों से मिलने से मना ही कर दिया।
बाईटें- किसानों की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *