Tue. Jan 19th, 2021

कमलेश के हत्यारों को शाहजहांपुर छोड़ने वाली इनोवा खुटार में गई पकड़ी

कमलेश के हत्यारों को शाहजहाँपुर छोड़ने बाली इनोवा खुटार में पकड़ी गई

खुटार पुलिस ने इनोवा के चालक से किसी गुप्त स्थान पर कर रही पूछताछ
खुटार। हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की निर्मम हत्या करने के आरोपियों को रविवार की रात शाहजहाँपुर छोड़ने वाली संदिग्ध इनोवा गाड़ी और उसके चालक को खुटार पुलिस ने बीती रात खुटार के एक होटल से पकड़ लिया। पुलिस ने इनोवा को थाने में खड़ा करा दिया है। जबकि चालक को किसी गुप्त स्थान पर ले जाकर पूछताछ की जा रही है। हालांकि खुटार पुलिस इससे इंकार कर रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार हत्या आरोपियों ने इनोवा कार को पलिया से गौरीफंटा नेपाल बॉर्डर के लिए बुक कराया था। लेकिन जब चालक गाड़ी को लेकर नेपाल बॉर्डर पर पहुंचा, तब तक नेपाल बॉर्डर बंद हो चुका था। जिसके बाद हत्यारोपी गाड़ी को किराए पर लेकर शाहजहाँपुर पहुंचे थे। रात में हत्या आरोपियों को शाहजहाँपुर छोड़ने के बाद चालक गाड़ी को लेकर वापस जा रहा था। रात में भूख लगने पर इनोवा गाड़ी चालक खुटार में तिकुनिया चौराहा पलिया रोड स्थित एक ढाबे पर खाना खाने लगा। तभी पुलिस ने उसे गाड़ी समेत दबोच लिया, पुलिस उसे थाने ले गई। जहां उसे पूछताछ के बाद सोमवार सुबह तड़के उसे किसी गुप्त स्थान पर ले गई है। जहां उससे पूछताछ की जा रही है। हालांकि खुटार थाना अध्यक्ष तेजपाल सिंह इस पूरे मामले से अनभिज्ञता जता रहे हैं। गाडी चालक का नाम तौहीद अहमद निवासी रिखीखेड़ा थाना पलिया जनपद लखीमपुर खीरी बताया जा रहा है।

सुधीर गुप्ता जिला लखीमपुर खीरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

*पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा थाना बीसलपुर पर किया गया अर्दली रूम*                        आज दिनांक 16-01-21 को पुलिस अधीक्षक पीलीभीत श्री जयप्रकाश महोदय द्वारा थाना बीसलपुर पीलीभीत पर अर्दली रूम किया गया जिसमें अपराध नियंत्रण व विवेचनाओं की जानकारी ली। सर्वप्रथम महोदय ने महिला हेल्प डेस्क कार्यालय, थाना कार्यालय, सीसीटीएनएस कार्यालय, बैरिक, हवालात, मैस एवं थाना परिसर का भी निरीक्षण किया गया तथा साफ सफाई रखने आदि आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए, इसके उपरांत पुलिस अधीक्षक महोदय ने कोरोना वायरस के दृष्टिगत सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करते हुये एक-एक कर सभी विवेचकों से विवेचनाओं की जानकारी ली और सभी विवेचकों से लंबित विवेचनाओं को शीघ्र निस्तारित करने एवं वांछित अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिये।