Mon. Oct 26th, 2020

श्रीकृष्ण जन्ममहोत्सव पर गोमती उद्गम पर 4 दिवसीय भक्ति रस प्रोग्राम आप सभी आमन्त्रित

शनिवार से गोमती उद्गम तीर्थ पर चार दिवसीय श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का होगा भव्य आयोजन

ब्रज लोक कला फाउंडेशन ग्रुप वृंदावन द्वारा किया जाएगा रासलीला का मंचन
दुल्हन की तरह सजने लगा गोमती तीर्थ स्थल

कुंवर निर्भय सिंह।अवध की शान लखनऊ की लाइफलाइन कही जाने वाली आदि गंगा गोमती नदी के पावन उद्गम तीर्थ स्थल पर वर्ष भर यूं तो कई धार्मिक सामाजिक आयोजन होते है उद्गम तीर्थ स्थल पर वर्ष में दो बार विशाल मेले का आयोजन किया जाता है और हर वर्ष को भगवान श्री कृष्ण की जन्माष्टमी महोत्सव भी धूम धाम से मनाया जाता है इस बारआदि गंगा मां गोमती नदी के पावन तीर्थ स्थल माधोटांडा पर श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का चार दिवसीय आयोजन होगा पवित्र गोमती नदी उद्गम तीर्थ स्थल पुनरुद्धार एवं बाबा दुर्गा नाथ मठ सेवा ट्रस्ट के पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गोमती तीर्थ स्थल पर स्थापित मंदिरों और प्रांगण को दुल्हन की तरह सजाया गया झील के चारों ओर रंग रोशन किया जा रहा है हर वर्ष की भांति इस बार भी भगवान श्री कृष्ण की जन्माष्टमी महोत्सव का कार्यक्रम धूमधाम से मनाया जाएगा इस बार जन्माष्टमी महोत्सव में ब्रज लोक कला फाउंडेशन ग्रुप प्रोफेसर दानी शर्मा के नेतृत्व में रासलीला का चार दिवसीय मंचन किया जाएगा क्षेत्र के भक्तों को रासलीला का आनंद उठाने के लिए प्रचार-प्रसार के माध्यम सेआमंत्रित किया जा रहा है आदि गंगा गोमती तीर्थ स्थल लगातार गोमती ट्रस्ट के पदाधिकारियों एवं सदस्यों के दिशा निर्देशन में सुंदर होता जा रहा है लगातार सौंदर्यीकरण होने के कारण पर्यटक और भक्तों के लिए
जनपद में अत्यंत रमणीक और मनमोहक पर्यटन स्थल मिल रहा है भक्त और सैलानी तीर्थ स्थल पर सैकड़ों की संख्या में प्रतिदिन आ रहे हैं

इंसेट
चार दिवसीय होगा श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव
आदि गंगा गोमती नदी के पावन उद्गम तीर्थ स्थल पर हर साल की तरह इस बार भी चार दिवसीय श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है इस बार 24 अगस्त से 27अगस्त तक होगा आयोजन होगा

इंसेट
वृंदावन मथुरा के ग्रुप के द्वारा किया जाएगा रासलीला का मंचन

आदिगंगा गोमती नदी के पावन तीर्थ स्थल पर बने विशाल मंच पर वृंदावन मथुरा के ब्रज लोक कला फाउंडेशन ग्रुप के प्रोफेसर दानी शर्मा के नेतृत्व 24 अगस्त को भगवान श्री कृष्ण के जन्म का मनमोहक रासलीला के द्वारा मंचन होगा इसके अलावा 25 अगस्त से लेकर 27अगस्त तक भगवान श्री कृष्ण की बाल लीलाओं आदि का मंचन किया जाएगा रासलीला का मंचन शाम को 7:00 बजे से लेकर रात के 12:00 बजे तक होगा

इंसेट
तीर्थ स्थल पर मुख्य आकर्षण रहेगी ट्री हट और नौका विहार
उद्गम तीर्थ स्थल पर लगातार ट्रस्ट के पदाधिकारियों के दिशा निर्देशन में सौंदर्यीकरण हो रहा है जिससे उद्गम तीर्थ स्थल जनपद ही नहीं पूरे प्रदेश और आस पड़ोस के प्रदेश मे अपनी अलग पहचान बना रहा है तीर्थ स्थल पर लगातार सैलानी आ रहे हैं इस बार गोमती नदी के दाहिने तट पर 14 फुट ऊंचाई पर तीन वृक्षों पर पर बनी ट्री हट श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सवआने वाले श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र बिंदु होगी साथ ही गोमती नदी की झील में नौका विहार कर लुत्फ उठा सकेंगे

इंसेट
बच्चे उठाएंगे झूलों का लुत्फ
आदि गंगा गोमती नदी के पार्कों में बच्चों के मनोरंजन के लिए गोमती ट्रस्ट के निर्देशन में जन सहयोग के द्वारा झूले लगाए गए हैं इन झूलों पर बच्चे झूला झूल कर कर लुत्फ उठाएंगे

इंसेट
सुरक्षा की दृष्टि से मौजूद रहेगी पुलिस फोर्स
मां गोमती नदी के उद्गम पावन तीर्थ स्थल पर होने वाले चार दिवसीय चार दिवसीय श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव में बड़ी संख्या में श्रद्धालु लोगों पहुंचते हैं कोई भी अनहोनी ना हो इस दृष्टि से सुरक्षा के लिए पुलिस फोर्स एवं ट्रस्ट के वालंटियर चप्पे-चप्पे पर मौजूद रहेंगे

इंसेट
श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव व्यवस्था को लेकर ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने बैठक कर
आदि गंगा गोमती नदी के पावन उद्गम स्थल पर होने वाले चार दिवसीय आयोजन को लेकर ट्रस्ट के अध्यक्ष हरिओम शर्मा एसडीम कलीनगर, उपाध्यक्ष चंद्रभानु सिंह एसडीम पूरनपुर, सचिव राकेश कुमार तहसीलदार कलीनगर, सह सचिव नीरज दुबे एवं ट्रस्ट के सदस्य प्रधान पति माधोटांडा योगेश्वर सिंह, पूर्व प्रधान धनीराम कश्यप,निर्भय सिंह, विपिन सिंह पराग सिंह गोविंदा राठौर सतीश यादव लालजीत राठौर आदि के दिशा निर्देशन में गोमती तीर्थ स्थल पर जन्माष्टमी पर्व की तैयारियां चल रही

आप भी सादर आमंत्रित हैं

पवित्र गोमती उद्गम तीर्थ स्थल पर 24 अगस्त दिन शनिवार से आयोजित होने वाले श्री कृष्ण जन्मोत्सव के पावन अवसर पर आप सपरिवार आमंत्रित हैं आइए और तीर्थ स्थल पर होने वाली रासलीला का आनंद लीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *