Wed. Jan 27th, 2021

पत्नी ने फरियाद ,मुझे न्याय दिला दो एस, पी साहब पति की दूसरी शादी

मेरी फरियाद सुनिए एसपी साहब,पति ने मुझे घर से निकाल कर कर ली है दूसरी शादी,

दिनांक 19 जून 2019
राजेश गुप्ता संवाददाता पीलीभीत

बूढ़े पिता और छोटी बच्ची के साथ एक महिला ने लिखित शिकायती प्रार्थना पत्र देकर पीलीभीत के पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर से गुहार लगाई है,महिला रिंकी देवी पुत्री डोरीलाल निवासिनी देवीपुरा गौटिया थाना गजरौला जिला पीलीभीत का कहना है कि मेरी कोई भी नहीं सुन रहा है मेरा पति हरचरण लाल पुत्र लक्ष्मण प्रसाद निवासी ग्राम नवादिया बिसेन थाना जहानाबाद जनपद पीलीभीत ने मेरी छोटी बच्ची के साथ मुझे घर से निकाल दिया है तथा वह मुझसे दहेज की मांग भी करता है,मेरी दो छोटी छोटी बच्चियां हैं उन बच्चियों के कारण मुझे घर से निकाल दिया है तथा किसी शशी नाम की दूसरी औरत से उसने शादी भी कर ली है।
पति की ज्यादती का शिकार हुई पीड़ित महिला ने आगे बताया है कि विवाह विच्छेद किये बिना ही उसके पति ने दूसरी शादी की है मैं अपने पति के साथ जाने के लिए पीलीभीत पुलिस लाइन के पुलिस परिवार परामर्श केंद्र में मैं समझौता के लिए प्रयास कर रही थी कि मेरे पति ने इसी बीच बिना समझौते के ही शादी कर ली है। मेरा तथा मेरी दो छोटी बच्चियों का भविष्य अंधकार में है बताइए साहब मैं क्या करूं अब आप ही मेरी मदद कीजिए।
फरियाद लगाकर पीड़ित महिला ने थाना जहानाबाद में भी लिखित प्रार्थना पत्र दिया है,
अब देखना यह है थाना जहानाबाद पुलिस द्वारा पीड़ित महिला की क्या मदद की जाती है।

राजेश गुप्ता संवाददाता थाना जहानाबाद जनपद पीलीभीत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

*पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा थाना बीसलपुर पर किया गया अर्दली रूम*                        आज दिनांक 16-01-21 को पुलिस अधीक्षक पीलीभीत श्री जयप्रकाश महोदय द्वारा थाना बीसलपुर पीलीभीत पर अर्दली रूम किया गया जिसमें अपराध नियंत्रण व विवेचनाओं की जानकारी ली। सर्वप्रथम महोदय ने महिला हेल्प डेस्क कार्यालय, थाना कार्यालय, सीसीटीएनएस कार्यालय, बैरिक, हवालात, मैस एवं थाना परिसर का भी निरीक्षण किया गया तथा साफ सफाई रखने आदि आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए, इसके उपरांत पुलिस अधीक्षक महोदय ने कोरोना वायरस के दृष्टिगत सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करते हुये एक-एक कर सभी विवेचकों से विवेचनाओं की जानकारी ली और सभी विवेचकों से लंबित विवेचनाओं को शीघ्र निस्तारित करने एवं वांछित अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिये।